Headline

शाही स्नान क्यो बना

Medhaj News 17 Jan 19 , 06:01:39 India
kumbh.jpg

शाही स्नान के लिये पहले अखाड़ों में खूनी संघर्ष होता था, कि पहले कौन नाहेगा, इस संघर्ष को खत्म अंग्रेजो ने 1930 में किया और उस समय के अफसर थे हैंक। अंग्रेजों ने ही सख्ती करके हर आखाड़े का समय नियत किया कि कौन कब और कितनी देर नाहेगा, जब तक पहला आखाड़ा वापस न आ जाये तब तक दूसरा आखाड़ा नही नहा सकता।





इस लड़ाई का कारण कपड़े थे, जादातर आखाड़े कपड़े पहनते थे, सिवाय निरंजनी आखाड़ा, जूना अखाड़ा,नागा सन्यासी और निर्वाणी आखाड़ा। हैंक के आदेश अनुसार  पहली पंक्ति के आखाड़े थे, महानिर्वाणी आखाड़ा उसके बाद आनन्द आखाड़ा,पंचायती आखाड़ा, फिर निरंजनी आखाड़ा उसके बाद जूना अखाड़ा। दूसरी पंक्ति के थे बैरागी आखाड़ा जिसमे है निर्मोही अनी, दिगम्बर अनी और निर्वाणी अनी ।-arYa




    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like