Headline



भारत का पहला हवा से हवा तक मार करने वाला BVRAAM मिसाइल

Medhaj News 29 Sep 19 , 06:01:39 Sports
astra_missile_1.png

भारत का पहला हवा से हवा तक मार करने वाला BVRAAM मिसाइल (बियोन्ड विजुअल रेंज एयर टू एयर) ‘अस्त्र'(Astra) आखिरकार वायु सेना में अब शामिल होने के लिए तैयार है। रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) को इस मिसाइल को तैयार करने में 15 साल लगे हैं। डीआरडीओ को उम्मीद है कि भारतीय वायु सेना अपने सुखोई-30 KI जेट के लिए कम से कम 200 मिसाइलों का ऑर्डर देगा। डीआरडीओ पहले से ही अस्त्र की मारक क्षमता को 110 किलोमीटर से बढ़ाकर 160 किलोमीटर से ज्यादा करने पर काम कर रहा है। BVRAAM मिसाइल आज दुनिया के सर्वश्रेष्ठ अस्त्रों में से एक है |





भारत अब ऐसे विकसित एयर कौम्बैट मिसाइल तैयार करने वाले अमेरिका, रूस, फ्रांस और इजरायल जैसे कुछ देशों की श्रेणी में शामिल हो गया है। इन मिसाइलों में दुश्मनों के हथियारों से लैस सुपरसोनिक फाइटर्स तक को खत्म करने की क्षमता है। इसमें आवाज की गति के चार गुणा स्पीड से उड़ने की क्षमता है। यह फिलहाल रूस, फ्रांस और इजरायल से वायु सेना के लिए मंगाए जाने वाले BVRAAM के मुकाबले बहुत सस्ता है। यही नहीं, रूस निर्मित सुखोई के बाद देश में बने तेजस को भी अस्त्र से लैस किया जा सकता है।





डीआरडीओ सुखोई के जरिए इस मिसाइल का पांच बार सफल परीक्षण कर चुका है और इसे लेकर काफी उत्साहित भी है।भारत भले ही 5000 किलोमीटर तक मार सकने वाले लंबी दूरी के परमाणु मिसाइल जैसे ‘अग्नि-5’ को बनाने में सफल रहा है लेकिन अब तक BVRAAM बनाने में वह असफल रहा था। अस्त्र को तैयार करने का भी रास्ता आसान नहीं रहा। इसे बनाने और परीक्षण के दौरान कई तकनीकी समस्याओं से गुजरना पड़ा।


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like

    Trends