क्या आपके स्मार्टफोन में ये ऐप इंस्टॉल है, यदि हां तो ये खबर आप के लिए है

Medhaj News 29 Aug 19,20:13:31 Science & Technology
IMG.jpg

क्या आपके स्मार्टफोन में भी कैमस्कैनर ऐप इंस्टॉल है? यदि हां तो हमारी आज की यह खबर खास आप लोगों के लिए है। इस पॉपुलर ऐप के सिक्योरिटी पर अब सवाल उठने लगा है। CamScanner Google Play Store से हटा लिया गया है, इस ऐप का इस्तेमालदस्तावेज की तस्वीरों को पीडीएफ फॉर्मेट में बदलने के लिए किया जाता है। कैमस्कैनर ऐप में मालवेयर (वायरस) मिला है जिसके बाद इस ऐप को तुरंत गूगल प्ले स्टोर से हटा लिया गया है।





Kaspersky शोधकर्ताओं के निष्कर्ष के अनुसार, कैमस्कैनर के हाल ही में जारी हुए वर्जन एडवरटाइजिंग लाइब्रेरी के साथ आ रहे हैं जिसमें खतरनाक मॉड्यूल मिला है। इस खतरनाक ट्रोजन-ड्रॉपर मॉड्यूल की पहचान "Trojan-Dropper.AndroidOS.Necro.n” नाम से हुई है। इसे पहले कुछ चीनी ऐप्स में भी देखा गया था। यह मॉड्यूल एक्सट्रैक होकर ऐप के रिसोर्स में एन्क्रिप्टेड फ़ाइल से अन्य खतरनाक मॉड्यूल को रन कर रहा है। रिसोर्स लिंक मॉड्यूल जिसे ड्रॉप्ड मॉड्यूल भी कहा जाता है इसे ट्रोजन डाउनलोडर के रूप में पाया गया है जो और भी अधिक खतरनाक मॉड्यूल डाउनलोड कर रहा है। आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि गूगल प्ले स्टोर से ऐप को 100 मिलियन से ज्यादा बार डाउनलोड किया गया है। Kaspersky शोधकर्ताओं ने जैसे ही कैमस्कैनर ऐप के लेटेस्ट वर्जन में एडवरटाइजिंग ड्रॉपर को देखा, उन्होंने इस बात को रिपोर्ट किया और फिर तुरंत ही ऐप को प्ले स्टोर से हटा लिया गया है। लेकिन अलग-अलग फोन में ऐप के अलग-अलग वर्जन चल रहे होंगे, इनमें से कुछ के रिसोर्स फाइल में खतरनाक कोड हो सकता है। ऐसे में बेहतर होगा कि ऐप को अनइंस्टॉल कर दिया जाए और फिर जब यह ऐप प्ले स्टोर पर आए तो इसे डाउनलोड किया जाए।


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends