Headline

EVM-VVPAT मिलान :विपक्षी पार्टियों को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा

Medhaj News 7 May 19 , 06:01:39 Governance
SC.png

लोकसभा चुनाव के लिए 23 मई को आने वाले परिणाम से पहले विपक्षी पार्टियां ईवीएम नजीतों का मिलान वीवीपीएटी के पर्चियों से कराने की मांग को लेकर आक्रामक है | इस बीच विपक्षी पार्टियों को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है | सुप्रीम कोर्ट ने 21 विपक्षी पार्टियों की पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी है | सुनवाई के दौरान विपक्षी पार्टियों के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कम से कम 25 या 33 फीसदी तक EVM-VVPAT मिलान की दरख्वास्त की थी | लेकिन कोर्ट ने कहा कि पिछले आदेश में सुधार की ज़रूरत नहीं है | ये था पहले का आदेश | चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने आठ अप्रैल को अपने फैसले में कहा था कि याचिका में जो मांग की गई है, उससे मौजूदा मिलान प्रक्रिया 125 गुणा बढ़ जाएगी |





ये पूरी तरह अव्यवहारिक होगा | लेकिन फिर भी हम इस दलील से सहमत हैं कि चुनाव प्रक्रिया को ज्यादा विश्वसनीय बनाने की कोशिश करनी चाहिए | इसलिए ये आदेश देते हैं कि हर विधानसभा क्षेत्र से 5 EVM मशीनों का VVPAT की पर्चियों से मिलान करवाया जाए | आठ अप्रैल के फैसले के खिलाफ विपक्षी पार्टियों ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी. कांग्रेस, सपा, बसपा, आरजेडी, तृणमूल कांग्रेस, एनसीपी, सीपीएम और तेलगु देशम समेत कुल 21 पार्टियों की मांग थी कि एक क्षेत्र में EVM मशीनों की आधी संख्या का मिलान VVPAT से निकली पर्चियों से चुनाव आयोग करवाए | चुनाव आयोग (ईसी) इस मांग के विरोध में है | ईसी का कहना है कि इस मांग को मान लेने पर चुनाव परिणाम में देरी होगी |


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like