Headline



खगोलीय घटना: चंद्रमा के नजदीक पहुंचा मंगल, पृथ्वी पर क्या होगा इसका प्रभाव

Medhaj News 23 Jan 20,00:10:12 World
Saur_Mandal.jpg

मंगल पृथ्वी की कक्षा में भ्रमण करते हुए चंद्रमा के नजदीक ज़ीरो  डिग्री पर पहुँच गये। इससे पृथ्वी पर उमस और गर्मी बढ़ सकती है और रात में तापमान गिर जाएगा। कोहरा बढेगा, वर्षा भी हो सकती है।कुछ देशों में प्राकृतिक घटना भी हो सकती है। कुछ देशों में भौगोलिक और प्राकृतिक सीमा बदल सकती है।, ज्योतिष आचार्य के अनुसार माघ का शुक्ल पक्ष  16 दिन का होगा। शुक्ल पक्ष का बढ़ना शुभ माना जाता है। 23 जनवरी को बृहस्पति, 24 को शनि और 28 को शुक्र चंद्रमा के ज़ीरो  डिग्री में होंगे। हर ग्रह 6 से 7 घण्टा इसी डिग्री में रहेगा।





इस घटना को टेलिस्कोप की मदद से देखा जा सकता है। यह नजारा बहुत ही खूबसूरत और विस्मयकारी  होगा। ये बहुत दुर्लभ संयोग है। 20 जनवरी को 12 :44 मंगल जीरो डिग्री पर आ गये थे। दक्षिण दिशा में इसे देखा गया। बृहस्पति 23 जनवरी को 2:45 पर ज़ीरो डिग्री पर होंगे, इसे पश्चिम दिशा में देखा जा सकता है।  24 जनवरी को 2:08 पर शनि होंगे इन्हें चन्द्रमा के पश्चिम में देखा जा सकेगा, तब पृथ्वी, चन्द्रमा, शनि एक पंक्ति में होंगे। 28 जनवरी को 7:28 पर शुक्र भी ज़ीरो डिग्री मे आ जायँगे यह उत्तर दिशा में होंगे। ज़ीरो डिग्री का मतलब बिल्कुल नज़दीक होता है।

शुक्ल पक्ष इस बार 15 नहीं 16 दिनों का

अमावस्या के बाद शुरू होने वाला माघ माह का शुक्ल पक्ष इस बार 15 नहीं 16 दिनों का रहेगा। इस पक्ष में तृतीया तिथि के बढ़ जाने से ऐसी स्थिति बनेगी। ज्योतिष ग्रंथों में शुक्लपक्ष के दिनों का बढ़ना शुभ माना गया है। ये स्थिति देश में सुख, धन और संपदा बढ़ने का संकेत देती है। इन दिनों में चंद्रमा मंगल के साथ महालक्ष्मी योग, बृहस्पति के साथ गजकेसरी योग और शनि के साथ विषयोग बनाएगा। इन 2 शुभ और 1 अशुभ ग्रह के प्रभाव से देश में आने वाले दिनों में बड़े राजनीतिक बदलाव देखने को मिलेंगे। देश की सीमाओं से जुड़े बड़े फैसले भी हो सकते हैं।-आर्य


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends