केरल: 96 साल की महिला ने परीक्षा देकर किया टॉप, 100 में से 98 अंक मिले

Medhaj news 1 Nov 18,20:18:19 World
amma1.jpg

केरल में 96 साल की एक महिला ने साक्षरता परीक्षा में 100 में 98 अंक पाकर मिसाल कायम की। केरल सरकार 'अक्षरालक्ष्यम' साक्षरता मिशन चला रही है। कर्त्यायनीअम्मा इस साक्षरता परीक्षा में शामिल होने वालीं सबसे उम्रदराज महिला हैं। परीक्षा देते हुए कर्तयायनी की तस्वीरें भी वायरल हो चुकी हैं।किसी भी चीज को करने, सीखने और समझने के लिए जुनून की जरूरत होती है और ऐसा ही कमाल का जुनून देखने को मिला केरल की रहने वाली कार्तियानी अम्मा के अंदर | जिन्होंने 96 साल की उम्र में साक्षरता परीक्षा दी |

साक्षरता परीक्षा (लिटरेसी परीक्षा) की आयोजन 5 अगस्त को हुआ था जिसमें करीब 42933 लोगों ने हिस्सा लिया था | अम्मा उन्हीं लोगों में से सबसे उम्रदराज महिला थीं | कार्तियानी अम्मा 'चेप्पाड राजकीय एलपी स्कूल' में परीक्षा में बैठी थीं | पढ़ने-लिखने को प्रेरित इस बुजुर्ग महिला ने 6 महीने पहले राज्य साक्षरता मिशन के एक कार्यक्रम में नामांकन कराया था | शुरू से ही उनकी पढ़ने और लिखने में बहुत रुचि थी |

31 साल बाद हाईकोर्ट ने 16 पूर्व पुलिसकर्मियों को सुनाई उम्रकैद की सजा

परीक्षा तीन वर्गों में होती है। इसमें लेखन, पाठन और गणित शामिल होता है। कर्त्यायनी को लेखन में 40 में से 38 अंक मिले। वहीं, पाठन और गणित में उन्हें पूरे अंक मिले।कर्त्यायनी का कहना है कि उन्होंने परीक्षा की अच्छे से तैयारी की थी। इसलिए प्रश्न पत्र आसानी से हल कर लिया। उन्होंने बताया कि वे 100 साल की उम्र तक 10वीं के समकक्ष परीक्षा पास करना चाहती हैं।केरल सरकार ने इस साल गणतंत्र दिवस पर 'अक्षरालक्ष्यम' साक्षरता मिशन शुरू किया है। इसका मकसद राज्य में साक्षरता दर को बढ़ाना है। इसके तहत राज्य में 21 हजार 908 वार्डों में 2,086 लर्निंग सेंटर खोले गए हैं। सरकार का कहना है कि वे अगले चार सालों में राज्य के सभी 18.5 लाख निरक्षर लोगों को साक्षर बनाना चाहते हैं।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like