चीन की ताइवान को धमकी

Medhaj News 3 Jan 19,16:12:42 World
china1.jpg

चीनी राष्ट्रपति ने बुधवार को कहा कि ताइवान को दोबारा चीन के साथ मिलाया जाएगा। शी ने यहां तक कहा कि चीन इस काम में अड़ंगा लगाने वाले बाहरी तत्वों के खिलाफ सभी आवश्यक कदम उठाने का विकल्प खुला रखेगा। जिनपिंग का इशारा अमेरिका जैसे देशों की तरफ था जो ताइवान को सहयोग देते रहे हैं। शी ने तल्ख लहजे में कहा कि ताइवान अपनी आजादी खारिज कर शांतिपूर्ण ढंग से चीन के साथ विलय को गले लगाए। यही सबसे बेहतर विकल्प रहेगा। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य ताइवान का चीन में विलय करना है और इसके लिए सैन्य बल का इस्तेमाल एक विकल्प है।





चीन और ताइवान एक-दूसरे की संप्रभुता को मान्यता नहीं देते हैं। दोनों ही खुद को असली चीन मानते हैं। ताइवान ऐसा द्वीप है जो 1950 से ही आजाद रहा है, लेकिन चीन उसे अपना विद्रोही राज्य कहता है। उसका मानना है कि ताइवान को चीन में शामिल होना चाहिए, इसके लिए चाहे बल प्रयोग ही क्यों न करना पड़े।


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like