Headline



Chhichhore Movie Review: देखने जाने से पहले जान लें कि कैसी है यह फिल्म

Medhaj News 6 Sep 19,00:14:19 Movies Review
chhichhore_thumbnail.png

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत और श्रद्धा कपूर की फिल्म छिछोरे 6 सितंबर को रिलीज होने वाली है। अगर आप फिल्म देखने के बारे में सोच रहे हैं तो उससे पहले जान लें कि कैसी है यह फिल्म। आज देश की सच्चाई यह है कि वो युवा जिन्हें देश का भविष्य कहा जाता है वो स्ट्रेस और तनाव में जिंदगी बिता रहे हैं। उन्हें अपने करियर को लेकर तनाव है। वो कंपीटीटिव एग्जाम को क्लीयर करने के तनाव से गुजर रहे हैं, जो इन्हें पास नहीं कर पाते वो तनाव और डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं। वो इस नाकामयाबी को सहन नहीं कर पाते और गलत कदम उठा लेते हैं। फिल्म की कहानी की बात करें तो यह अनिरुद्ध (सुशांत सिंह राजपूत) और माया (श्रद्धा कपूर) की जिंदगी पर आधारित है। जो दोनों शादी करते हैं लेकिन बाद में उनका तलाक हो जाता है, दोनों उस समय अजीब स्थिति में फंस जाते हैं जब उनका टीनएज (teenage) बेटा राघव सुसाइड करने की कोशिश करता है। डॉक्टर बताते हैं कि उसकी शारीरिक और मानसिक हालत गंभीर है।





अनिरुद्ध को लगता है कि राघव को इस हालत से बाहर लाने का एक ही रास्ता है और वो उसे अपने (अनिरुद्ध के) कॉलेज के दिनों में ले जाना, जहां ना केवल उसे माया से प्यार हुआ था बल्कि सेक्सा (वरुण शर्मा), एसिड (नवीन पोलिशेट्टी), डेरेक (ताहिर राज भसीन), बेवड़ा (सहर्श कुमार शुक्ला) और मम्मी (तुषार पांडे) जैसे दोस्त भी मिले। इसके बाद फिल्म कॉलेज लाइफ की तरफ जाती है जिसमें मस्ती और एनर्जी नजर आती है। फिल्म में ऐसे कई सीन हैं जो बहुत फनी हैं लेकिन एडल्ट जोक के लिए तैयार रहें। फ्लैशबैक में जाने के बाद फिल्म काफी मजेदार हो जाती है जिसमें रोमांस, कॉमेडी से लेकर हॉस्टल लाइफ की मस्ती तक देखने को मिलती है। इसके बाद जब फिल्म आज के दिन पर लौटती है तो वहां वहीं पुराने दोस्त साथ खड़े नजर आते हैं, जो इतने लंबे समय और दूरी के बाद भी साथ हैं। फिल्म करीब 2.30 घंटे लंबी है। इसके कुछ सीन्स को देखकर दर्शकों को फिल्म थ्री इडियट्स की याद आएगी। फिल्म में श्रद्धा ने यंग और उम्रदराज माया का रोल बेहतरीन तरीके से निभाया है। वहीं यंग अनिरुद्ध (अन्नी) के रोल में सुशांत जम गए हालांकि उम्रदराज अनिरुद्ध के किरदार में वो थोड़े अनकंफर्टेबल नजर आए लेकिन उनका काम अच्छा है। वहीं वरुण शर्मा अपनी कॉमेडी से दर्शकों को हंसाने में कामयाब होते हैं। वहीं फिल्म के बाकी एक्टर्स ने भी अपने रोल को बेहतर तरीके से निभाया। एकेडमिक सफलता और विफलता पर आधारित इस फिल्म से युवा और माता- पिता खुद को जोड़ पाएंगे। फिल्म का डायरेक्शन और डायलॉग्स बहुत अच्छे हैं।


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends