कही घर में झगड़े की वजह आप की डोर बेल तो नहीं, तुरंत बदल डालें

medhaj news 27 Nov 18,22:08:06 Lifestyle
door_ball.jpeg

लोग अक्सर अपने घर के दरवाजे पर ऐसी डोर बेल लगवाते हैं, जिसकी आवाज मधुर होने के साथ घर में मौजूद लोगों को भी आसानी से सुनाई दे जाए।पर क्या पर जानते हैं आपकी डोर बेल आपके घर में क्लेश का कारण भी बन सकती है।जी हां सुनकर भले ही हैरानी हो लेकिन यह बात एकदम सच है। दरअसल डोर बेल लगाते समय वास्तुशास्त्र का बहुत ध्यान रखना चाहिए।वास्तुदोष होने पर ये आपके घर की शांति और खुशहाली तक को छीन सकता है।आइए जानते हैं वास्तु के अनुसार डोर बेल से जुड़ी कई अहम बातें। 

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के बाहर डोर बेल जरूरी लगानी चाहिए। घर में डोर बेल नहीं होने की स्थिति में घर आए मेहमान घर के लोगों को आवाज देकर या फिर दरवाजा खटखटाकर बुलाते हैं। वास्तु की मानें तो कुंडी खटखटाने या आवाज देकर घर के लोगों को बुलाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है।जिसकी वजह घर में रहने वाले लोगों के दिमाग पर काफी बुरा प्रभाव पड़ता है और वो काफी चिड़चिड़े हो जाते हैं। बहुत कम ही लोग इस बात को जानते हैं कि वास्तुशास्त्र के अनुसार घर की डोर बेल जमीन से कम से कम पांच फीट की ऊंचाई पर लगी होनी चाहिए।अगर इस बात का दूसरा पहलू देखें तो ऐसा इसलिए भी है क्योंकि ऐसा करने से घर के लोग बच्चों की शरारतों और छेड़छाड़ से परेशान होने से बच जाते हैं। 

वास्तुशास्त्र की मानें तो घर की नेम प्लेट हमेशा डोर बेल से ऊपर लगी होनी चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से परिवार के मुखिया का यश और कीर्ति हमेशा बढ़ी हुई रहती है। इसके अलावा घर में हमेशा सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश बना रहता है।जिससे घर में खुशियों के आगमन के साथ परिवार के लोग भी आपस में मिलजुलकर रहते हैं। अगर नेमप्लेट और डोर बेल में दोष है तो बिना बात घर के लोगों में कड़वाहट बनी रहती है। ऐसी स्थिति में घर में जो भी गेस्ट आएंगे, उनका घर से नाराज होकर जाने की आशंका बढ़ी रहती है। 

कैसे बनाए जाते हैं ये टेस्टी गोंद के लड्डू, हर बीमारी से रहेंगे दूर

घर में खराब आवाज या तेज शोर करने वाली डोर बेल भी नेगेटिविटी लाती है। इस तरह की डोर बेल घर में लगाने से बचना चाहिए। सुनिश्चित करें कि घर में जो बेल लगाएं उसकी आवाज मधुर हो ताकि घर में पॉजिटिविटी बनी रहे।अगर घर में आते हुए कोई व्यक्ति सुबह के वक्त दरवाजा खटखटाता है तो वह वास्तु नहीं माना जाता।वास्तु के अनुसार ऐसा करने से लक्ष्मी जी नाराज हो जाती हैं। इसीलिए सुबह आने वालों से डोर बेल बजाने के लिए विशेष रूप से निवेदन करें।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...

    Similar Post You May Like