लोकसभा चुनाव के लिए तैयार हैं अखिलेश-मायावती

Medhaj News 14 Mar 19 , 06:01:39 India
akhimaya.jpg

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सभी राजनीतिक दलों ने अपनी कमर कस ली है | उत्तर प्रदेश में काफी अरसे बाद साथ आए बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी एक साथ चुनावी रण में उतरने के लिए तैयार हैं | बुधवार को हुई सपा प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा अध्यक्ष मायावती की बैठक में दोनों नेताओं की साझा रैलियों को लेकर बात हुई |





बहुजन समाज पार्टी के संभावित उम्मीदवारों की लिस्ट



1. सहारनपुर हाजी फ़ज़लुर्रह्मान



2. बिजनौर इकबाल ठेकेदार



3. मेरठ हाजी याकूब कुरैशी



4. धौरहरा अरशद इलियास सिद्दीकी



5. डुमरियागंज आफताब आलम



6. गाजीपुर अफ़ज़ाल अंसारी



7. भदोही रंगनाथ मिश्र



8. संतकबीरनगर भीष्म शंकर उर्फ़ कुशल तिवारी



9. कैसरगंज संतोष तिवारी



10. अंबेडकरनगर राकेश पांडेय



11. सीतापुर नकुल दुबे



12. प्रतापगढ़ अशोक त्रिपाठी



13. आगरा मनोज सोनी (सु)



14. मिश्रिख डॉ नीलू सत्यार्थी (सु)



15. (सु) मोहनलालगंज सी एल वर्मा



16. (सु) बांसगांव  दूधराम



17. (सु) नगीना गिरीशचन्द्र जाटव



18. (सु) बुलन्दशहर योगेश वर्मा



19. (सु) शाहजहांपुर अमर चन्द्र जौहर



20. (सु) जालौन अजय सिंह पंकज



21. (सु)लालगंज घूराराम



22. घोसी अतुल राय



23. गौतमबुद्ध नगर सतबीर नागर



24. अमरोहा मलूक नागर



25. अलीगढ़ अजीत बालियान



26. फर्रुखाबाद मनोज अग्रवाल



27. हमीरपुर संजय कुमार साहू



28. देवरिया विनोद जायसवाल



29. सुल्तानपुर चन्द्रभद्र सिंह



30. सलेमपुर R S कुशवाहा



31. अकबरपुर निशा सचान



32. फतेहपुर सुखदेव प्रसाद वर्मा



33. बस्ती राम प्रसाद चौधरी



इन उम्मीदवारों में 6 मुस्लिम, 7 ब्राह्मण,1 क्षत्रिय,1 जाट, 2 गुर्जर,1 भूमिहार, 9 दलित, 3 वैश्य और 4 अन्य पिछड़ा वर्ग से हैं |  इस प्रकार अब सिर्फ श्रावस्ती, जौनपुर, आंवला और मछलीशहर (सु) की सीटें ही शेष हैं | दोनों नेता नवरात्र में ही साझा रैलियां शुरू कर सकते हैं, इस अभियान की शुरुआत पश्चिमी उत्तर प्रदेश से होग | इसके अलावा भी इस बैठक में उम्मीदवारों को लेकर मंथन हुआ | सूत्रों की मानें तो दोनों नेताओं के बीच तय हुआ है कि जमीन पर अपने कैडर को संकेत देने के लिए दोनों साथ में रैलियां कर रहे हैं | माना जा रहा था कि अभी तक बंद कमरों में हो रही बैठक से कैडर के पास सीधा संदेश नहीं जा रहा था | सात चरणों में होने वाले उत्तर प्रदेश के चुनाव में दोनों नेता हर चरण दो-दो साझा रैलियां करेंगे | यानी कुल 14 साझा रैलियां आने वाले दिनों में देखने को मिल सकती हैं |


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like