Headline



जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट ने फिल्म शिकारा की याचिका खारिज कर दी

Medhaj News 7 Feb 20,20:47:04 Entertainment
shikara_t.png

कश्मीरी पंडितों पर बनी बॉलीवुड फिल्म 'शिकारा' (Shikara) पर रोक की मांग वाली याचिका जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट (Vidhu Vinod Chopra) में खारिज कर दी गई है | फिल्म 'शिकारा: द अनटोल्ड स्टोरी ऑफ कश्मीरी पंडित' 1990 की शुरुआत में कश्मीर घाटी से कश्मीरी पंडितों के पलायन की पृष्ठभूमि पर आधारित है | इस फैसले को लेकर फिल्म के निर्माता-निर्देशक विधु विनोद चोपड़ा ने खुशी जाहिर की है | उन्होंने कहा कि मैं कोर्ट को शुक्रिया अदा करना चाहता हूं कि उन्होंने इस याचिका को खारिज कर दिया | मैं उम्मीद करता हूं कि 'तोड़ो नहीं जोड़ो' मैसेज पूरी दुनिया में इस फिल्म के जरिए पहुंचेगा |





याचिका राजनीतिक विश्लेषक इफ्तिखार मिगार, कश्मीरी पत्रकार माजिद हैदरी और एक स्थानीय वकील इरफान हफीज लोन द्वारा दायर की गई थी | याचिका में आरोप लगाया गया था कि इस फिल्म में कश्मीर और कश्मीरी पंडितों के बारे में गलत तथ्य दर्शाए गए हैं | याचिका में कहा गया था कि फिल्म में कश्मीरी मुसलमानों को पलायन के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है, जो कि सही नहीं | फिल्म के जरिये नफरत फैलाने की कोशिश की जा रही है जो इस वक्त के हालातों को देखकर जम्मू-कश्मीर में स्थिति को और बिगड़ सकती है |





बता दें कि फिल्म 'शिकारा' के जरिए विधु विनोद चोपड़ा ने दर्शकों को कश्मीरी पंडितों पर हुए अत्याचार की कहानी को एक प्यारी-सी लवस्टोरी के जरिए बताने की कोशिश की है | 'शिकारा' 1990 में कश्मीरी पंडितों पर हुए जुल्म को दिखाती है कि आखिर कैसे रातों-रात उन्हें घर से निकलने के लिए मजबूर कर दिया जाता है | फिल्म में दो नए कलाकार आदिल खान और सादिया खान नजर आ रहे हैं | फिल्म का डायरेक्शन विधु विनोद चोपड़ा ने किया है, उन्होंने ये फिल्म अपनी मां को डेडीकेट की है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए उन्होंने कश्मीरी पंडितों के दर्द को एक लवस्टोरी में पिरोया है | कश्मीरी पंडितों के साथ हुए अन्यायपूर्ण घटना को निर्देशक ने दो किरदारों के साथ बुना है, जो दिल को छूती जाती है | फिल्म आज रिलीज हो चुकी है |


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends