न्यूज़ीलैंड के खिलाफ जीतना आसान नहीं होगा

Medhaj News 20 Jan 19 , 06:01:39 India
sports.jpg

ऑस्ट्रेलिया से जीतने के बाद, भारत न्यूजीलैंड से जीत जायेगा ऐसा लोग सोच रहे है। ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया से 71 साल बाद टेस्ट सीरीज जीतने और पहली बार द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीतने वाली भारत की टीम को अब न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 वनडे और तीन टी-20 खेलने को।आतुर है। और अब उसे एकदिवसीय और t20 में मजबूत कीवियों से भिड़ना है।





न्यूजीलैंड के पूर्व ऑलराउंडर स्टायरिस ने कहा भी है कि स्टार्टर खत्म, अब मेन कोर्स करना है। इस समय कीवी टीम काफी मजबूत है। उनके पास एक मजबूत बल्लेबाज़ी है कप्तान विलियमसन के अलावा मार्टिन गुप्टिल, रॉस टेलर, कोलिन मुनरो, हेनरी निकोलस जैसे बल्लेबाज  इंडिया के गेंदबाजों के लिये परेशानी पैदा कर सकने में सक्षम हैं। इंडिया की गेंदबाजी काफी मजबूत है। तो कीवी के पास भी ट्रेंट बोल्ट, मैट हेनरी, ल्यूक फग्यरुसन जैसे घातक तेज गेंदबाज हैं जो घरेलू परिस्थितियों का फायदा उठाएंगे। कीवी के पास कोलिन डी ग्रैंडहोम और जिमी निशाम जैसे ऑलराउंडर हैं जो निचले क्रम में किसी का भी रिकॉर्ड खराब कर सकते है, और गेंदबाजी भी।





भारत ने आखिरी बार 2013-14 में न्यूजीलैंड का दौरा किया था।  और 4-0 से हारा था। एक मैच टाई रहा था। न्यूजीलैंड और भारत के बीच  कुल 101 मैच खेले गए हैं। इसमें न्यूजीलैंड ने 44 और भारत ने 51 मैच जीते हैं। एक मैच टाई रहा है जबकि 5 मैचों का कोई नतीजा नहीं निकला। वहीं न्यूजीलैंड में  खेले गए 42 मैचों में से भारत ने 14 और न्यूजीलैंड ने 25 मैच जीते है।





रैंकिंग में दूसरे स्थान पर है भारत तीसरे पायदान पर कीवी से 23 जनबरी 2019 को भिड़ेगा।  जसप्रीत बुमराह नही होने पर गेंद की जिम्मेदारी भुवनेश्वर कुमार और मुहम्मद शमी के हाथों में होगी। न्यूजीलैंड के मैदान  बहुत छोटे हैं और यहां पर रन आसानी से बनते हैं। ऐसे में रोहित शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली जैसे बल्लेबाजों को फायदा होगा –arYa


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like