Headline



क्या है शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या, राशियों पर इसका क्या होगा असर

Medhaj News 23 Jan 20 , 06:01:40 India
SHANI.png

शनि सभी ग्रहों में सबसे धीमी चाल से चलने वाले एकमात्र ग्रह है। धीमी चाल चलने की वजह से इसका असर काफी दिनों तक रहता है। जिस भी जातक की कुंडली में शनि रहते हैं उन पर अपनी सीधा प्रभाव डालते हैं। शनि का असर एक राशि पर ढाई साल से साढ़े सात साल तक रहता है। जब भी शनि का गोचर एक राशि से दूसरी राशि में होता है तब शनि उस राशि के अलावा उसके पहले वाली राशि और बाद वाली एक राशि पर पड़ता है। इसे ही साढ़ेसाती कहते हैं। वहीं जब शनि का गोचर किसी राशि से चौथे और आठवें भाव में होता है तो उसको ढैय्या कहा जाता है। किसी भी व्यक्ति के जीवन में हर 30 साल में एक बार साढ़ेसाती जरूर आती है।





शनि के मकर राशि में प्रवेश करते ही कुंभ राशि पर साढ़ेसाती का पहला चरण शुरू हो जाएगा जो आगे साढ़े सात साल तक चलेगा। मकर राशि पर साढ़ेसाती का दूसरा चरण होगा, वहीं धनु राशि पर साढ़ेसाती का अंतिम चरण रहेगा। शनि के राशि बदलने से वृश्चिक राशि से साढ़ेसाती उतर जाएगी। इसके अलावा वृष और कन्या राशि के लोग ढैय्या से मुक्ति पा लेंगे। मिथुन और तुला पर ढैय्या आरंभ हो जाएगी। आइए जानते हैं शनि के राशि परिवर्तन से सभी राशि के जातकों पर कैसा होगा असर...





मेष राशि- शनि के राशि बदलने से मेष राशि के जातकों पर इसका कोई असर नहीं होगा। काम आसानी से होंगे और नौकरी के लिए अनुकूल समय रहेगा।

वृष राशि- वृष राशि के जातकों पर शनि की ढैय्या उतर रही है। धन संबंधी लाभ मिलेगा।

मिथुन राशि- मिथुन राशि पर शनि की ढैय्या लगेगी। परेशानियां बढ़ेंगी और सेहत में गिरावट देखने को मिलेगा।

कर्क राशि- इस राशि के जातकों के लिए शनि शुभ फल देगा।

सिंह राशि- आपके ऊपर शनि का कोई विशेष प्रभाव देखने को नहीं मिलेगा।

कन्या राशि- कन्या राशि के जातकों से शनि की ढैय्या उतर जाएगी।

तुला राशि- शनि के मकर राशि में प्रवेश करने से तुला राशि के जातकों पर शनि की ढैय्या शुरू हो जाएगी। बाधाएं मिलेगी।

वृश्चिक राशि- इस राशि के जातकों पर से शनि की साढ़ेसाती उतरेगी। अच्छे दिन शुरू होंगे। कार्यों में सफलता मिलेगी। समाज में यश बढ़ेगा।

धनु राशि- धनु राशि पर साढ़ेसाती का अंतिम चरण होगा। शनि शुभ फल प्रदान करेंगे।

मकर राशि- आप पर साढ़ेसाती का दूसरा चरण होगा। मिला जुला परिणाम देखने को मिलेगा।

कुंभ राशि- शनि के मकर राशि में प्रवेश होने से कुंभ राशि पर साढ़ेसाती शुरू हो जाएगी। आर्थिक परेशानियां और नौकरी में संकट रहेगा।

मीन राशि- मीन राशि के जातकों पर शनि का सीधा प्रभाव नहीं रहेगा।


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends